पंजाब के सीएम उम्मीदवार को लेकर 24 घंटे के भीतर ही आम आदमी पार्टी के नेताओं ने पलटी मार ली है. कल पार्टी के नंबर दो के नेता और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के बयान को खारिज करते हुए पार्टी के नबंर वन लीडर और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वो पंजाब के सीएम नहीं होंगे, बल्कि पंजाब का ही शख्स सूबे का सीएम होगा.

केजरीवाल ने पंजाब के पटियाला में एक रैली के दौरान कहा कि वो सूबे के सीएम नहीं होंगे, पंजाब का सीएम पंजाब का ही होगा.

पंजाब से बाहर के सीएम उम्मीदवारी का विरोध कर रहे नेताओं को आड़े हाथों लेते हुए केजरीवाल ने जनसभा से कहा, “पंजाब का सीएम पंजाब का ही तो होगा, पाकिस्तान का तो नहीं होगा. लेकिन जो भी सीएम बनेगा, वादे पूरा करने की जिम्मेदारी मेरी है.”

चुनाव में पैसे के इस्तेमाल पर चोट करते हुए केजरीवाल ने वोटरों से कहा, “पैसे सबसे ले लेना वोट आम आदमी पार्टी को देना”

आपको बता दें कि कल मोहाली में मनीष सिसोदिया ने कहा था कि पंजाब के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हो सकते हैं.

केजरीवाल के 10 वादे

  • एक महीने में नशे की सप्लाई बंद करेंगे. 40 लाख बच्चे नशा करते हैं, 6 महीने के अंदर नशे का इलाज करके नशे से बाहर निकालेंगे.
  • 25 लाख रोजगार, 80 फीसदी नौकरी स्थानीय लोगों को दी जाएगी
  • झूठे केस वापस लिए जाएंगे
  • बुजुर्ग, विधवा, विकलांगों को ढाई हजार पेंशन देंगे
  • डेढ़ से दो साल में किसानों का कर्जा माफ करेंगे, तीन साल के अंदर स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करेंगे
  • हर गांव में स्वास्थ्य क्लिनिक, सरकारी स्कूल खोलेंगे, बिना सरकारी इजाजत के कोई प्राइवेट स्कूल फीस नहीं बढ़ा सकता.
  • पंजाब में बुरी नीयत की सरकार है, हमारी नीयत अच्छी है. भ्रष्टाचार खत्म करके पैसा बचाएंगे और विकास करेंगे.
  • चुन-चुन कर ईमानदार आदमी को टिकट दिया है, लेकिन अगर कोई गलत काम करे तो शिकायत करना उसको दुगनी सजा दिलवाएंगे.
  • भ्रष्टाचार दूर करेंगे, रेड राज खत्म करेंगे
  • गुरु ग्रन्थ साहिब की बेअदबी करने वाले पकड़े नहीं गए, शक होता है कि कहीं अकाली दल का ही तो हाथ नहीं था, सरकार बनी तो सख्त सजा दिलवाएंगे

सीएम उम्मीदवारी पर अकाली का वार

इससे पहले, अकाली दल के सीनीयर नेता सुखदेव सिंह ढींडसा ने भी केजरीवाल के सीएम उम्मीदवारी पर सवाल उठाए थे. उनका कहना था कि पंजाब को पंजाबी सीएम ही चला सकता है. ढींडसा ने आरोप लगाया कि आम आद मी पार्टी हरियाणा के बंदे को पंजाब का सीएम बनाना चाहती है, ताकि वह पंजाब का पानी हरियाणा में लेकर जा सके.

ढींडसा ने कहा कि पंजाब के लोग और अकाली दल कभी भी हरियाणा के बंदे को पंजाब का सीएम नहीं बनने देंगें.

आपको बता दें कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल मूलत: हरियाणा के हिसार के रहने वाले हैं. हरियाणा और पंजाब के बीच पानी का मुद्दा काफी संवेदनशील है और पंजाब की राजनीति पर इसका गहरा असर होता है.


MORE FROM RUMOURNEWS